Sat. Jun 15th, 2024

RCB के मंसूबों पर राजस्थान फेरा पानी, एलिमिनेटर में 6 विकेट से हराकर टूर्नामेंट से किया बाहर

RCB VS RR : राजस्थान राॅयल्स(RR) ने IPL के एलिमिनेटर मुकाबले में राॅयल चैलेंजर्स बेंगलुरु(RCB) को 4 विकेट से हरा दिया औय क्वालीफायर 2 में अपनी जगह बना ली। अब शुक्रवार को चेन्नई में राजस्थान राॅयल्स(RR) का सामना सनराइजर्स हैदराबाद(SRH) से होगा। वही मुकाबले में RCB ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 172 रन बनाए। जवाब में राजस्थान राॅयल्स(RR) ने अंतिम ओवर में 4 विकेट शेष रहते 19 ओवर में हासिल कर लिए।

RCB की बल्लेबाजी हुई फ्लाॅप

एलिमिनेटर मुकाबले में राजस्थान राॅयल्स(RR) ने टाॅस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और आरसीबी(RCB) को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। RCB की शुरुआत सधी हुई रही। दोनों बल्लेबाजों ने 4 ओवर में 37 रन जोड़े। इसके बाद कप्तान फाफ डू प्लेसिस 17 रन बनाकर ट्रेंट बोल्ट का शिकार बने। इसके बाद विराट कोहली भी ज्यादा देर नही रूके और 33 रन की पारी खेलकर चहल का शिकार बने।

इसके बाद कैमरून ग्रीन और रजत पाटीदार ने 40 रन जोड़े। टीम के 100 रन के स्कोर के पहले ग्रीन 27 रन और ग्लेन मैक्सवेल शून्य लगातार दो गेंदों पर आर आश्विन का शिकार बने। इसके बाद पाटीदार भी 34 रन बनाकर आवेश खान का शिकार बने। अंत मे महिपाल लोमरोर ने 17 गेदों पर 32 रन की तूफानी पारी खेली। जिसकी बदौलत RCB ने 8 विकेट खोकर 172 रन बनाए। राजस्थान राॅयल्स(RR) की ओर से आवेश खान ने 3 विकेट और आर आश्विन ने 2 विकेट हासिल किए।

RR ने एक ओवर पहले किया चेस

जवाब में राजस्थान राॅयल्स(RR) की शुरुआत सधी हुई रही। यशस्वी जायसवाल और टी कोल्हर ने पहले विकेट के लिए 46 रन जोड़े। इस साझेदारी को लाॅकी फर्ग्यूसन ने टी कोल्हर को 20 रन के स्कोर पर आउट कर दिया। इसके बखद यशस्वी जायसवाल ने कप्तान संजू सैमसन के साथ मिलकर पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 35 रन जोड़े। इसके बाद यशस्वी जायसवाल अर्धशतक से चूक गए और 46 रन बनाकर कैमरून ग्रीन की गेंद पर दिनेश कार्तिक को कैच थमा बैठे।

इसके बाद कप्तान संजू सैमसन भी 17 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद रियान पराग और धुव्र जोरेल ने कुछ रन जोड़े। लेकिन जोरेल 8 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद पराग ने हेटमायर के साथ 47 रन की साझेदारी की और टीम को जीत के करीब ले गए। पराग 36 रन और हेटमायर 26 रन बनाकर आउट हो गए। अंतिम ओवर में पावेल ने 6 लगाकर टीम को 4 विकेट से जीत दिलाई।

जानिए क्यों बरस रही है पूरे प्रदेश में आग, कब मिलेगी 40° तापमान से निजात

इन दिनों पूरे मध्यप्रदेश में जमकर आग बरस रही है। प्रदेश के कई जिलों में तापमान में 40° डिग्री के ऊपर है। इनमें कुछ जिले ऐसे भी है, जिनमे तापमान 45° डिग्री के करीब पहुंच गया। इस भीषण गर्मी के पूरे प्रदेश के लोगों में हाहाकार मची हुई है और सभी के मन में एक ही सवाल है कि आखिर कब आसमान से बरस रही इस आग से निजात मिलेगी।

इन जिलों में हो सकती है बारिश

प्रदेश के वैज्ञानिकों के अनुसार, पाकिस्तान में पश्चिमी स्ट्रोक बना हुआ है। साथ ही हरियाणा में नॉर्थ साउथ स्ट्रोक महाराष्ट्र तक जाता है। इसकी वजह से आने वाले 24 घंटों में पश्चिम मध्य प्रदेश में गरज चमक के साथ हल्की वर्षा दर्ज की जा सकती है। पश्चिमी मध्य प्रदेश में बारिश की वजह से यलो अलर्ट जारी किया गया है। इसके साथ ही ग्वालियर, चंबल, भिंड, दतिया, निवाड़ी संभाग में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है, साथ ही हीट वेव की चेतावनी भी दी गई है।

वही दूसरी ओर प्रदेश के दक्षिण हिस्से में आंधी तूफान के साथ बारिश की संभावनाएं भी जताई जा रही हैं। मौसम विभाग द्वारा बताया गया है कि छिंदवाड़ा, अशोकनगर, शिवपुरी, मैहर के साथ कुछ अन्य जगहों पर तापमान कम रहेगा और बारिश भी होने की संभावनाएं हैं।

यह चल सकती हैं हीट वेव

मध्य प्रदेश के कई जिलों में तापमान 40 डिग्री के पार रहा, जिसमें भोपाल, दतिया, ग्वालियर, इंदौर, उज्जैन, मुरैना, शाहजहांपुर, टीकमगढ़, रतलाम, नर्मदापुरम, धार, शिवपुरी, खरगोन , दमोह, सतना, खंडवा, रायसेन, खंडवा, सागर, गुना, मुरैना, नौगांव, भिंड, खाजुराओं, निवाड़ी, जबलपुर का तापमान सबसे गर्म रहा। रतलाम में सबसे ज्यादा तापमान दर्ज किया गया। यहां का तापमान 45.6 डिग्री रहा। मौसम विभाग के अनुसार 23 मई को भोपाल में सबसे ज्यादा गर्मी पड़ेगी।

Oyo ने शुरु किए 4 सेल्फ-ऑपरेटेड होटल्स; विशेष साझेदारी के तहत 2024 में 25 नए होटल्स खोलने का लक्ष्य

लखनऊ, 14 मई 2024: ग्लोबल हॉस्पिटैलिटी टेक्नोलॉजी कंपनी, Oyo ने इस वर्ष लखनऊ में 25 सेल्फ-ऑपरेटेड होटल्स शुरू करने की घोषणा की है। अपने शुरुआती चरण के दौरान, इस श्रेणी में oyo पहले ही चार होटल शुरू कर चुका है। इनमें टाउनहाउस एमएस इन गोमती नगर सेक्टर 6, टाउनहाउस लैंडमार्क गोमती नगर मटियारी, ओयो नटराज इन नियर एसजीपीजीआई और कलेक्शन ओ ज़ारांग गोमती नगर मटियारी के नाम शामिल हैं। इसके अतिरिक्त, oyo रियल एस्टेट डेवलपर्स के साथ साझेदारी करने के लिए प्रतिबद्ध है, ताकि विभिन्न क्षेत्रों में होटलों की स्थापना के लिए उचित सम्पत्तियाँ तलाशी और विकसित की जा सकें। इन होटलों का संचालन oyo के प्रोफेशनल होटल ऑपरेटर्स करेंगे, जिससे उन्हें अपने व्यवसाय की वृद्धि और विस्तार के अवसर मिले सकेंगे।

OYO की बेबसाइट कर सकते हो बुक

ये तमाम होटल्स oyo की ऐप और वेबसाइट पर ‘सर्विस्ड बाए ओयो’ होटल्स के रूप में शामिल होंगे, ताकि उनके संचालन में ओयो की प्रत्यक्ष भागीदारी सुनिश्चित हो सके।ओयो की योजना रियल एस्टेट सेक्टर और स्थानीय जानकारी के साथ अपनी इनोवेटिव टेक्नोलॉजी और हॉस्पिटैलिटी सॉल्यूशंस के माध्यम से इसका विस्तार करना है। इस पहल के माध्यम से, शीर्ष होटल भागीदार अतिरिक्त राजस्व कमा सकते हैं, वह भी पट्टे के जोखिम या नया होटल खोलने की लागत के बिना।

इन ऑपरेटर्स को समर्पित रिलेशनशिप मैनेजर्स, ओयो के 15,000 से अधिक कॉर्पोरेट अकाउंट्स और 10,000 से अधिक ट्रैवल एजेंट्स के नेटवर्क तक पहुँच प्राप्त होगी।इनमें से अधिकांश होटल्स कंपनी की प्रीमियम होटल पेशकशों का हिस्सा होंगे, जिनमें टाउनहाउस, टाउनहाउस ओक और कलेक्शन ओ जैसे नाम शामिल हैं।इस प्रक्रिया के तहत ओयो, संपत्ति या होटल मालिकों को अपनी संपत्ति किसी बड़े संगठन को पट्टे पर देने का अवसर प्रदान कर रहा है। इसके तहत वे अपनी संपत्ति के सुरक्षित रखरखाव के लिए निश्चित किराए, रेवेन्यू शेयरिंग या मैनेजमेंट कॉन्ट्रैक्ट का विकल्प चुन सकते हैं।

कंपनी इस बात पर कड़ी नजर रखेगी कि होटल का रखरखाव कितने अच्छे से किया जाता है और ग्राहकों के इसे लेकर क्या विचार हैं। यह तय करने के बाद कि कौन-से ऑपरेटर्स सबसे अच्छा काम कर रहे हैं, उन्हें ओयो द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा।इस पहल का उद्देश्य एक ऐसे सहयोगी इकोसिस्टम की स्थापना करना है, जिसमें ओयो, होटल संचालक और संपत्ति के मालिक अतिथि-केंद्रित होटल संचालित करने के लिए एकजुट हों। यह साझेदारी के माध्यम से समुदायों में आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के कंपनी के लक्ष्य के अनुरूप है। यह कार्यक्रम ओयो के समर्पण पर प्रकाश डालता है, जो ग्राहकों को बेहतर विकल्पों की पेशकश करने पर आधारित है। चाहे हमारे मेहमान अपनी व्यावसायिक यात्रा पर हों, पारिवारिक अवकाश पर अपने शहर से बाहर आए हों, या फिर अकेले ही एडवेंचर ट्रिप पर निकले हों, उन्हें टॉप-रेटेड होटल्स में ठहरने के विभिन्न विकल्प मिलेंगे, जो न सिर्फ उनकी यात्रा को सुगम बनाएँ, बल्कि उनकी शैली, बजट एवं प्राथमिकताओं के भी अनुरूप हों।

उक्त विषय पर बोलते हुए, वरुण जैन, चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर, ओयो, ने कहा, “लखनऊ तेजी से एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में उभर रहा है, जो बड़ी संख्या में व्यवसाय के सिलसिले में और छुट्टियाँ मनाने आने वाले यात्रियों को आकर्षित कर रहा है। ऐसे में, शहर में बेहतर आवास की माँग भी तेजी से बढ़ रही है, जिसके चलते नए होटलों की तत्काल जरुरत है। होटल व्यवसायियों और संपत्ति मालिकों को इस पहल में शामिल करके, ओयो का लक्ष्य संपत्ति के मालिकों और प्रोफेशनल होटल ऑपरेटर्स के साथ-साथ यात्रियों को भी लाभ पहुँचाना है।” इस अवसर पर टिप्पणी करते हुए, होटल लैंडमार्क के मालिक चमन गुप्ता ने कहा, “मेरे वेंचर के साथ-साथ होटल व्यवसाय का प्रबंधन, मेरे लिए बहुत बड़ी चुनौती थी। जब से मैंने ओयो की टीम को इसके प्रबंधन का कार्य सौंपा है, तब से मुझे इस समस्या से काफी राहत मिली है।

मैं यह देखकर काफी खुश हूँ कि मेरी संपत्ति का उचित प्रकार रख-रखाव किया जा रहा है और इसे पूरी तरह साफ-सुथरा रखा जा रहा है। ओयो की टीम अपने वादों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है और मैं इसकी सराहना करता हूँ, विशेष रूप से किराए की राशि अदा करने के संबंध में। इसे बेहद आसान, सुविधाजनक और परेशानी मुक्त बनाने के लिए मैं ओयो का आभारी हूँ।”ओयो रूम्स ने अपने टेक स्टैक को और भी अधिक सरल, आधुनिक और डिजिटल बना दिया है, जिसका उद्देश्य इसके भागीदारों को अपनी पहुँच और राजस्व बढ़ाने में मदद करना है। इसके अपडेटेड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट्स, जैसे कि को-ओयो, भागीदारों को सशक्त बनाता है, जिससे वे ओयो की संख्या में वृद्धि हेतु स्वयं के प्रचार प्रस्ताव पेश कर सकते हैं और उनका उचित प्रकार प्रबंधन भी कर सकते हैं। वहीं, एआई-आधारित सेल्फ-ऑनबोर्डिंग टूल, ओयो 360, एक सहज टू-क्लिक प्लेटफॉर्म प्रदान करता है, जिसकी सहायता से भागीदार अपनी संपत्तियों को नामांकित कर सकते हैं। एक साधारण समीक्षा के रूप में, महज़ एक क्लिक से ये सम्पत्तियाँ सभी प्लेटफॉर्म्स पर केवल 30 मिनट में लाइव हो जाएँगी।

LSG VS MI : लखनऊ ने मुंबई की 4 विकेट से हराया, मुंबई इंडियंस पर मंडराया हार का खतरा

LSG VS MI : मंगलवार को IPL में लखनऊ सुपरजाइंट्स(LSG) और मुंबई इंडियंस(MI) की टीमें आमने-सामने हुई। जहां लखनऊ सुपरजाइंट्स(LSG) ने मुंबई इंडियंस(MI) को 4 विकेट से शिकस्त दी। मुकाबले में मुंबई इंडियंस(MI) ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 7 विकेट खोकर 144 रन बनाए थे। जवाब में लखनऊ सुपरजाइंट्स(LSG) की टीम ने 6 विकेट खोकर 19.2 ओवर में लक्ष्य हासिल कर। टूर्नामेंट में छठवीं जीत हासिल की। जबकि इस हार के बाद मुंबई इंडियंस की टीम पर टूर्नामेंट से बाहर होने का खतरा मंडराने लगा है।

MI की बल्लेबाजी बुरी तरह हुई फेल

मैच में लखनऊ सुपरजाइंट्स(LSG) ने अपने घर में टाॅस जीतकर मेहमान टीम को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। MI की ओर से रोहित शर्मा के साथ ईशान किशन ओपनिंग करने आए। लेकिन MI की शुरुआत बेहद खराब रही। रोहित शर्मा 4 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद सूर्यकुमार यादव 10 रन, तिलक वर्मा 7 रन और कप्तान हार्दिक पंड्या बिना खाता खोले नवीन उल हक का शिकार बने। जिसके कारण MI का स्कोर 27 रन पर 4 विकेट हो गया।

इसके बाद ईशान किशन ने निहाल बढेरा के साथ 53 रन की साझेदारी की। इस साझेदारी को रवि बिश्नोई ने ईशान किशन को 32 रन पर आउट कर तोड दिया। इसके बाद निहाल बढेरा ने तिलक वर्मा के साथ 32 रन जोड़े। निहाल अपने अर्धशतक से चूक गए और 46 रन बनाकर आउट हो गए। तिलक वर्मा 35 रन बनाकर नाबाद रहे। जिसके कारण MI ने 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 144 रन बनाए। वही LSG की ओर से मोहसिन खान ने सबसे ज्यादा 2 विकेट हासिल किए।

LSG ने आसानी से हासिल किया लक्ष्य

जवाब में LSG की ओर से डेब्यू कर रहे अर्शणि कुलकर्णी के साथ ओपनिंग करने आए। लेकिन अर्शणि बिना खाता खोले ही पहली गेंद पर नुवाना तुषार का शिकार बने। इसके बाद मार्कस स्टोनिस ने कप्तान के एल राहुल के साथ 58 रन की साझेदारी की। इस साझेदारी के केएल राहुल ने 28 रन बनाकर हार्दिक पंड्या का शिकार बने।

स्टोनिस ने दीपक हुड्डा के साथ 40 रन की साझेदारी की। दीपक हुड्डा 18 रन बनाकर आउट हो गए।स्टोनिस ने अपना अर्धशतक पूरा किया और वें 45 गेदों पर 62 रन बनाकर आउट हो गए। अंत में पूरन ने 14 रन की नाबाद पारी खेलकर LSG को 19.1 ओवर में 4 विकेट से जीत दिलाई।

GT VS RCB : विल जैक्स और कोहली के तूफ़ान में उडी गुजरात, आरसीबी ने 9 विकेट से हराकर कर हासिल की दूसरी जीत

GT VS RCB : राॅयल चैलेंजर्स बेंगलुरु(RCB) खराब शुरुआत के बाद अब एक बार फिर जीत की पटरी पर लौट आयी है। टीम ने रविवार को गुजरात टाइटन्स(GT) के खिलाफ 9 विकेट जीत हासिल कर टूर्नामेंट में लगातार दूसरी जीत हासिल की। इस मुकाबले में गुजरात टाइटन्स(GT) ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 200 रन बनाए। जिसे RCB ने बड़े ही आसानी से 1 विकेट खोकर 16 ओवर में हासिल कर लिया। मैच में RCB की ओर से विल जैक्स ने नाबाद शतक लगाया।

GT के लिए शाहरुख खान और साई सुदर्शन ने लगाया अर्धशतक

मैच में RCB की टीम ने टाॅस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और GT को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। टीम की ओर से साहा और कप्तान शुभमन गिल ओपनिंग करने आए। लेकिन साहा कुछ खास नहीं कर सके और पहले ओवर में 5 रन बनाकर स्वप्निल सिंह का शिकार बने। इसके बाद कप्तान गिल भी 16 रन बनाकर मैक्सवेल का शिकार बने।

इसके बाद साई सुदर्शन और शाहरुख खान ने पारी को संभाला। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 85 रन जोड़े। इस दौरान शाहरुख खान ने IPL का पहला अर्धशतक लगाया और वें 58 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद डेविड मिलर के साथ साई सुदर्शन ने 69 रन की साझेदारी की और टीम को 200 रन तक पहुंचाया। टीम की ओर सुदर्शन 84 रन और मिलर 26 रन बनाकर नाबाद रहे।

RCB ने आसानी से किया चेस

जवाब में RCB की टीम की ओर से कप्तान फाफ डू प्लेसिस के साथ विराट कोहली ओपनिंग करने आए। दोनों बल्लेबाजों ने RCB को तूफानी शुरुआत दिलाई और पहले विकेट के लिए 40 रन जोड़े। इस साझेदारी को साई किशोर ने डू प्लेसिस को 24 रन पर आउट कर पवेलियन लौटाया। इसके बाद विराट कोहली ने विल जैक्स के साथ 166 रन की नाबाद साझेदारी।

RCB ने 16 ओवर में लक्ष्य हासिल कर 9 विकेट से जीत दिलाई। आरसीबी की ओर से विराट कोहली ने नाबाद 70 रन और विल जैक्सने IPL का पहला शतक लगाते हुए नाबाद 100 रन की पारी खेली। उनकी 41 गेदों की पारी में 5 चौके और 10 छक्के शामिल रहे।

चमत्कारिक अष्ट मूर्ति बताकर पीतल मूर्ति को 50 लाख में बेचा, खरीददार की समझदरी से गिरफ्तार हुए ठग

सागर में जैन भगवान की मूर्ति के नाम पर ठगी करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया है, व्यापारी ने अष्ट धातु की चमत्कारी मूर्ति बताकर 50 लाख में सौदा किया था, लेकिन खरीददार ने जब चेक करवाई तो मूर्ति पीतल की निकली, जिसके खरीददार ने पुलिस ने शिकायत दर्ज कराने के बाद पुलिस ने दो धोखेबाज आरोपी कंछेदी पिता जूतेलाल कुर्मी (58) निवासी ग्राम रसूलपुर (विदिशा) और सूरत पिता सुकई (43) निवासी देवलचौरी को गिरफ्तार किया।

मूर्ति 10 हजार एडवांस लिए बाकि रकम बाद में देनी थी

पुलिस ने बताया कि जाँच में दोनों आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल किया है, आरोपी ने बताया कि हमने 10 हज़ार एडवांस में लिए थे और बाकि के पैसे मूर्ति चेक होने के बाद कि बात हुई थी।

अलीगढ़ से मंगवाते थे मूर्ति

आरोपियों ने पुलिस को बताया कि हम लोग यह पीतल की मूर्ति उत्तरप्रदेश के अलीगढ़ से मंगवाते थे, पुलिस ने धोखाधड़ी का केस दर्ज कर, आरोपियों के कब्जे से एक मूर्ति और बाइक जब्त की है।

यह भी पढें – मध्यप्रदेश कांग्रेस प्रभारी भाटिया ने नरेंद्र सिंह और सिंधिया की ली क्लास, चुनाव कार्यालय के उद्धघाटन में आये थे मुरैना

MP ATS की सूरत में बड़ी छापामार कार्रवाई, 360 बैरल जब्त तीन गिरफ्तार

MP ATS (आंतकवाद निरोधक दस्ते) ने गुजरात (Gujrat) सूरत (Surat) में बड़ी छापेमार कार्रवाई कर 360 बैरल जब्त किए हैं। एटीएस ने यह कार्रवाई सेंधवा में पकड़े हथियार तस्करों द्वारा दी गयी जानकारी के बाद कि थी। अभी इस मामले को लेकर एटीएस की पड़ताल जारी है।

सीमा वर्ती जिलों में चल रहे अवैध धंधों पर नजर

एमपी में सीमा व्रती जिलों में अवैध हथियारों के निर्माण करने वालों और तस्करों पर एटीएस का शिकंजा कसता जा रहा है। बड़वानी जिले में हाल ही में की गई कार्रवाई में गिरफ्तार किए गए एक सिकलीगर की निशानदेही की गई है। एटीएस ने पहली बार यह भी खुलासा किया है कि प्रदेश के बड़वानी, खरगोन, बुरहानपुर और धार जिलों के सिकलीगरों द्वारा अवैध हथियारों के निर्माण में कच्चा माल दूसरे राज्यों से मंगवाया जा रहा है। इस पूरे मामले में एटीएस कड़ी से कड़ी जोड़कर हथियारों के अवैध निर्माताओं, उनकी तस्करी करने वालों और रॉ मटेरियल सप्लाई करने वालों का पता लगा रही है।

आरोपी के निशानदेही पर की सूरत में कार्रवाई

एमपी एटीएस ने बड़वानी जिले के खेतिया थाना के ग्राम धावड़ी निवासी सरनाम सिंह पिता धीर सिंह (32 वर्ष) को हाल ही में अवैध हथियारों के कारोबार से जुड़े होने के मामले में सेंधवा से ही गिरफ्तार किया है। प्रारंभिक पूछताछ में उसने बताया कि वह अस्थायी रूप से सूरत के प्रभुनगर क्षेत्र में रहकर अवैध हथियारों के निर्माण में उपयोग होने वाले रॉ मटेरियल और बैरल की सप्लाई मध्य प्रदेश तक करता हूँ। उसकी निशानदेही पर एटीएस ने टीम गठित कर सूरत के हरिनगर उधना में चल रहे योगेश इंजीनियरिंग वर्क्स पर दबिश दी।

मप्र में और भी जगहों से बरामद हो चुके है अवैध हथियार

एमपी एटीएस ने करीब 19 मार्च 2024 को खरगोन जिले के गोगांवा थाना क्षेत्र के सिग्नूर में चल रही अवैध आर्म्स फैक्ट्री पर दबिश देकर अंतर्राज्यीय नेटवर्क का खुलासा किया था। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर एटीएस ने खरगोन जिले के कसरावद थाना क्षेत्र के ग्राम सरवल देवला को खंडवा व सिग्नूर निवासी गुरुबख्त सिकलीगर को खरगोन से पकड़ा था। एमपी एटीएस की पड़ताल अभी इस मामले पर जारी है।

होली के दिन यातायात पुलिस ने भरे कई जिंदगियों में रंग

होली के दौरान यातायात पुलिस पूरे इंदौर में सक्रिय रूप से नजर आईं। होली पर सुगम यातायात के उद्देश्य से डीसीपी यातायात अरविंद तिवारी ने पुलिस बल की ड्यूटी तय कर दी थी। चौराहों, बाजारों, चेकिंग पाइंट आदि पर पुलिस ने हुड़दंगियों पर नजर रखने के साथ जरूरतमंदों की मदद भी की।

पुलिस हमेशा मदद को है तैनात

इस दौरान कई जगह हुए हादसों में घायलों को पुलिस ने एमवाय अस्पताल पहुंचाया। इसके अलावा कुछ लोगों की इमरजेंसी स्थिति में मदद भी की। सोमवार सुबह रेडिसन चौराहे पर बाइक पर सवार मां-बेटे को एक तेज रफ्तार लोडिंग वाहन ने टक्कर मार दी। यातायात प्रबंधन का कार्य देख रहे सूबेदार अमित यादव, प्रधान आरक्षक जितेंद्र यादव, भावना, निकिता ने तत्काल मां-बेटे को उठाया। बेटे जितेंद्र को सामान्य चोट थीं, वहीं मां सुशीला के बाएं पैर की हड्डी टूट गई थी। पुलिस बल ने तुरंत एक आटो में बैठाकर एमवाय अस्पताल भेजा। दोनों का इलाज शुरू करवाकर परिजनों को सूचित किया गया। आर्थिक तंगी के चलते पुलिस ने इलाज का खर्च भी उठाया।
दूसरी घटना में शाम को पलासिया चौराहे पर गीता भवन की ओर से आ रही एक कार के बोनट में से अचानक धुंआ निकलने लगा। ड्यूटी पर तैनात निरीक्षक सीमा भण्डारी ने स्टाफ की मदद से तत्काल कार पर पानी डलवाकर उसमें बैठे बुजुर्ग पति-पत्नी को बाहर निकाला।

ड्यूटी के दौरान आरक्षक ने सरकारी रायफल से की खुदख़ुशी, पुलिस तलाश कर रही करण

दतिया जिले के इंदरगढ़ थाना में ड्यूटी के दौरान आरक्षक ने सरकारी राइफल से गले में खोली मारकर आत्महत्या कर ली। थाने में मौजूद पुलिसकर्मी और अन्य लोग खून से लथपथ आरक्षक को अस्पताल लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। घटना से इंदरगढ़ थाने में सनसनी फैल गई है। मामले की जींच की जा रही है।

आत्महत्या के कर्म का नहीं हो पाया खुलासा

मामला दतिया के इंदरगढ़ थाने का है। सूचना मिलते ही पुलिस के आला अफसर पहुंचे। आरक्षक के शव को अस्पताल ले लाया गया। आरक्षक ने आत्महत्या क्यों की? कारण का पता लगाने पुलिस मामले की जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार यह घटना गुरुवार सुबह 7:00 बजे की है। जब इंदरगढ़ थाने में पदस्थ आरक्षक विवेक शर्मा पहरे की ड्यूटी पर तैनात था और अपनी शासकीय राइफल बंदूक लेकर ड्यूटी कर रहा था। आरक्षक विवेक शर्मा ने एकाएक अपने आप को गोली मारकर खुदकुशी जैसा कदम उठा लिया। बंदूक से चली गोली आरक्षक विवेक शर्मा की गले में लगी। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इंदरगढ़ पुलिस जब तक अस्पताल लेकर पहुंची तो डॉक्टर ने मृत्य घोषित कर दिया। आरक्षक विवेक शर्मा ग्वालियर के निवासी हैं एवं उनकी दतिया में पोस्टिंग थी और वे विभिन्न स्थानों में पदस्थ रहकर सेवाएं दे रहे थे। वर्तमान में इंदरगढ़ थाने में पदस्थ थे।

ज्योतिरादित्य सिंधिया की मां की तबियत नाजुक, फिलहाल वेंटिलेटर का सहारा

पूर्व केंद्रीय मंत्री माधवराव सिंधिया की पत्नी और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की मां माधवी राजे की तबियत बिगड़ी है। उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने पर 15 फरवरी को दिल्ली के एम्स में भर्ती किया गया था। फिलहाल उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है। ज्योतिरादित्य ने गुना के एक कार्यक्रम में राजमाता के बीमार होने की जानकारी दी।

गुना में ओला प्रभावित कृषकों से की मुलाकात

ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना में ओला प्रभावित किसानों और उनके परिजनों से मुलाक़ात की। इस दौरान सिंधिया ने बताया कि राजमाता पिछले कुछ दिनों से बीमार है। आप लोगों में भी तो मेरा भाई, बहन, मां-पिता हैं। मैं परिवार को परेशानी में नहीं देख सकता। ओलावृष्टि ने फसलों को बर्बाद किया है। ऐसे दुख के समय में मुझे भी आपसे मिलने आना ही था। बता दे की भाजपा ने लोकसभा चुनावों के लिए 195 प्रत्याशियों की सूची दो मार्च को जारी की थी। इसमें सिंधिया को ग्वालियर राजपरिवार की पारंपरिक सीट गुना से उम्मीदवार बनाया गया है। नाम घोषित होने के तीन दिन बाद मंगलवार रात को गुना पहुंचे। और वे तीन दिन के गुना प्रवास पर हैं।

ज्योतिरादित्य अपने मां से है काफी करीब

मां की तबियत ठीक नहीं होने की वजह से ज्योतिरादित्य भी भाजपा के कार्यक्रमों से दूर ही रहे। सिर्फ केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के कार्यक्रम में शामिल हुए थे। इसके बाद से वे लगातार दिल्ली में ही बने हुए हैं और मां की सेहत पर नजर रखे हुए हैं। उनके करीबियों का कहना है कि मंत्रालय में भी वह कम ही समय दे रहे हैं। उनका अधिकांश समय अपनी मां के साथ गुजर रहा है। ज्योतिरादित्य अपने मां के काफी करीब हैं। माधवी राजे को सांस लेने में तकलीफ होने पर 15 फरवरी को दिल्ली एम्स में भर्ती किया गया था। इसके बाद से उनकी सेहत नाजुक बनी हुई है।

माधवी राजे का नेपाल के राजघराने से संबंध

माधवी राजे सिंधिया मूलतः नेपाल की रहने वाली हैं। उनका परिवार वहां के राजघराने से जुड़ा रहा है। उनके दादा शमशेर जंग बहादुर राणा नेपाल के पीएम भी रह चुके हैं। विवाह से पहले उनका नाम प्रिंसेस किरण राज्यलक्ष्मी देवी था। 1966 में उनका विवाह ग्वालियर के सिंधिया राजपरिवार के राजकुमार माधवराव सिंधिया से हुआ था। मराठी परंपरा के अनुसार शादी के बाद उनका नाम बदल गया और उनका नया नाम माधवी राजे सिंधिया हो गया। पहले उन्हें महारानी कहा जाता था। माधवराव के निधन के बाद उन्हें राजमाता कहा जाने लगा। माधवी राजे के पति पूर्व केंद्रीय मंत्री माधव राव सिंधिया का 30 सितम्बर 2001 को यूपी के मैनपुरी के पास विमान हादसे में निधन हुआ था। उस समय उनकी उम्र महज 56 साल थी।