Sat. Jun 15th, 2024

बीच मैदान में युवराज सिंह को एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने दी गर्दन काटने की धमकी, इसके बाद जो हुआ वो हमेशा के लिए इतिहास बन गया

क्रिकेट को अनिश्चिताओं का खेल कहा जाता है। क्रिकेट के मैदान पर कभी भी कुछ भी हो सकता है। कुछ ऐसा साल 2007 के टी20 विश्व कप के भारत और इंग्लैंड के मुकाबले में देखने को मिला था। जहां इंग्लैंड के आलराउंडर एंड्रयू फ्लिंटॉफ और भारत के बल्लेबाज युवराज सिंह के बीच मैदान में जमकर विवाद हो गया था और दोनों ने एक-दूसरे को गर्दन काटने तक की धमकी दे दी थी। आईये जानते है इस पूरे किस्से को कि आखिर ऐसा क्या था उस दिन।

सहवाग और गंभीर ने की शानदार शुरुआत

दरअसल बात साल 2007 के टी20 विश्व कप में डरबन के मैदान पर ग्रुप स्टेज का 21वां मुकाबला खेला जा रहा था। इस मुकाबले में भारतीय कप्तान एम एस धोनी ने टाॅस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था ।भारत की ओर से वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर ने शानदार बल्लेबाजी की थी और पहले विकेट के लिए 136 रन जोड़े थे। इसके बाद सहवाग 68 रन और गौतम गंभीर 58 रन बनाकर आउट हुए। इनके बाद राॅबिन उथप्पा भी 6 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद 17वें ओवर में बल्लेबाजी करने आए युवराज सिंह, उसके बाद वो हुआ जिसके बारे में किसी ने सोचा नहीं था।

फ्लिंटॉफ ने दी गर्दन काटने की धमकी

युवराज सिंह ने फ्लिंटॉफ को 18वें ओवर में लगातार दो गेदों पर दो चौके जड़ दिए। इसके बाद ओवर खत्म होने के बाद फ्लिंटॉफ ने उनसे कहा, बाहर आ तेरी गर्दन काट दूंगा। युवराज भी कहां सुनने वाले थे। उन्होंने इसका जवाब देते हुए उन्होेंने कहा, ये बल्‍ला देख रहा है। बाहर की बात तो बाद में, पता है न कि बल्‍ला कहां जाएगा। फिर अंपायरों ने आकर बीच-बचाव किया। हालांकि असली गेम तो इसके बाद स्टुअर्ट ब्रॉड के ओवर में हुआ।

फ्लिंटॉफ का गुस्सा ब्रॉड पर उतारा

जहां युवराज ने फ्लिंटॉफ का गुस्सा ब्रॉड पर उतारा। युवराज ने स्टुअर्ट ब्रॉड की पहली गेंद पर मिडविकेट पर छक्का लगाकर ओवर की शुरुआत की। इसके बाद अगली गेंद को स्क्वेयर लेग के ऊपर से फ्लिक किया। ब्रॉड की तीसरी गेंद ऑफ-साइड पर थी युवराज ने एक और छक्का जड़ा। चौथी गेंद कमर तक फुल टॉस थी, जिसे उन्होंने आसानी से सीमा रेखा के पार भेजा। पांचवीं गेंद पर ब्रॉड ने ओवर द विकेट आकर गेंद की दिशा और लेंथ बदलने की कोशिश की, लेकिन इस बार भी नतीजा नहीं बदला। छठी गेंद पर युवराज को विश्वास था, कि वह यॉर्कर आएगी हुआ भी ऐसा ही और युवराज ने छक्का लगाकर छह छक्कों का रिकॉर्ड अपने नाम दर्ज कर लिया।

सबसे तेज अधशतक रिकॉर्ड बनाया

इसी के साथ युवराज सिंह ने महज 12 गेदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया। जो अब भी अंतर्राष्ट्रीय टी20 क्रिकेट में सबसे अर्धशतक रिकॉर्ड है। वें 16 गेदों में 7 छक्के और 3 चौके की मदद 58 रन बनाकर नाबाद रहे। उनकी इस पारी की बदौलत भारतीय टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 218 रन बनाए। जवाब में इंग्लैंड की टीम 200 रन ही बना सकी और यह मैच 18 रन से हार गई।

ब्रॉड के पिता ने मांगा युवराज का ऑटो ग्राफ

इसके बाद अगले दिन स्टुअर्ट ब्रॉड के पिता क्रिस ब्रॉड अगले दिन युवराज सिंह से मिलने आए। जो मैच में रेफरी थे। उन्होंने युवराज से कहा, आपने तो मेरे बेटे का करियर लगभग खत्म ही कर दिया अब तो उनके लिए आपको एक टी शर्ट पर साइन करके देना पड़ेगा।” इसके बाद युवराज ने भी उनका सम्मान किया और टीम इंडिया की जर्सी पर उनका आॅटो ग्राफ दिया और उनके भविष्य की शुभकामनाएं की।