Sat. Jun 15th, 2024

Bhopal police की मुस्तैदी से 80 लाख की लूट की गुत्थी, चंद मिनटों में सुलझी

Bhopal: Bhopal police ने लूट की मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया। उनके पास से 49 लाख रुपये नकद, घटना में स्तमाल गाड़ी, कट्टा-कारतूस, धारदार हथियार चाकू, एटीएम कार्ड जब्त किए हैं। वारदात के खुलासा करने वाली Police टीम को 50 हजार का इनाम देने की अनुसंशा की गई है।

नौकर ने ही बनाई थी लूट की योजना

जांच में पता चला कि घर का नौकर ही लूट में शामिल था। उसने आरोप को लूट करने के लिए बुलाया था। नौकर ने आरोपियों द्वारा पीटे जाने का नाटक भी किया था ताकि उस पर कोई संदेह नहीं कर सके। लेकिन जाँच में विरोधाभास तथ्यों से पुलिस को शक हुआ तो पुलिस ने सख्ती से पूछताछ करने खुलासा हुआ।

मंडीदीप के एक घर मे मिला समान

पकड़े गए आरोपियों ने पूछताछ में एक आरोपी अमित के घर पहुँची तो बोरी भरकर रखे गए रुपये और एक देशी कट्टा तथा 2 कारतूस बरामद किए। आरोपी लक्ष्मण लूट के बाद बाइक से भाग रहा था पर बाइक खराब होने पर पैदल धकेल रहा था तभी उसे Police ने पकड़ लिया था।

Police की जांच टीम को 50 हज़ार का इनाम

भोपाल कमिश्नर पुलिस कमिश्नर हरिनारायणाचारी मिश्र ने बताया कि मूलत सतना निवासी ज्ञानेंद्र सिंह परिहार (59) यहां बी-234 शाहपुरा में परिवार के साथ रहते हैं। बड़े किसान होने के साथ ही शहर में उनके कई फार्महाउस और दुकानें हैं। परिवार में पत्नी सविता सिंह के साथ ही तीन बेटियां सोनल सिंह, डॉ. अंशुल सिंह और प्रियल सिंह हैं। सुमन सिंह शहर से बाहर गई हुई हैं। सबसे छोटी बेटी प्रियल सिंह का सोमवार को बर्थडे था, इसलिए पूरा परिवार खाना खाने के लिए होटल गया था।

Police ने 5 घंटे में सुलझाई गुत्थी

इस दौरान घर पर काम करने वाले धर्मेंद्र सिंह परिहार, उनकी पत्नी सुमन परिहार और एक नाबालिग लड़का था। सोमवार रात करीब सवा 10 बजे आधा दर्जन नकाबपोश बदमाश घर के अंदर दाखिल हुए और धर्मेंद्र और उनकी पत्नी के साथ हथौड़े से मारकर लहूलुहान कर दिया और उन्हें एक कमरे में बंद कर दिया। उसके बाद नाबालिग के साथ मारपीट कर उसे दूसरे कमरे में बंद कर दिया। बाद में पूरे घर की तलाशी ली और ज्ञानेंद्र सिंह के कमरे से 50 लाख रुपये नकदी तथा 10 लाख रुपये कीमत के सोने और डायमंड के जेवरात चोरी कर भाग निकले। पुलिस की मुस्तेदी से हमने 5 घंटे में ही आरोपियों को पकड़ लिया और सारा सामान बरामद कर लिया है। जाँच में जुटे सभी पुलिसकर्मियों को 50 हज़ार के इनाम देने की अनुसंशा हुई है।