Wed. Apr 24th, 2024

लोकसभा चुनाव की घोषणा के बाद कांग्रेस के एक राज्यसभा सांसद ने छोड़ी पार्टी, इस पार्टी को ज्वाइन

आगामी लोकसभा चुनाव से पहले मध्य प्रदेश में बीजेपी को बड़ा झटका लगा है। राज्यसभा सांसद अजय प्रताप सिंह ने 16 मार्च को पार्टी से इस्तीफा दे दिया। बताया जा रहा है की अजय प्रताप सिंह लोकसभा का टिकट नहीं मिलने से नाराज हैं। अब उनके निर्दलीय चुनाव लडने की संभावना है।

आख़िर क्यों छोड़नी पड़ी पार्टी?

अजय प्रताप सिंह ने सोशल मीडिया पर अपना इस्तीफा शेयर किया है। उन्होंने सभी संगठनों को समाज का प्रतिनिधित्व की भावना में विश्वास रखने की सलाह दी। उन्होंने यह कहकर पार्टी छोड़ दी है कि यहां सभी समाज को प्रतिनिधित्व नहीं मिल पा रहा है।

वह सीधी में बीजेपी के घोषित उम्मीदवार से नाराज बताए जा रहे हैं। दरअसल अजय प्रताप सिंह सीधी लोकसभा सीट से बीजेपी से दावेदारी कर रहे थे, लेकिन बीजेपी ने सीधी लोकसभा सीट से डॉ राजेश मिश्रा को टिकट दिया है। अजय सिंह 2018 में मध्य प्रदेश से राज्यसभा सांसद चुने गए थे। फिलहाल उन्होंने अपना इस्तीफा बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को भेजा है।

मैं जातिगत राजनीति में विश्वास नहीं करता हूं: अजय सिंह

इस्तीफा देने के बाद अजय सिंह ने कहा, ”राजनीति मेरे लिए सेवा का माध्यम है, धन अर्जन का माध्यम नहीं, लेकिन अब परिस्थितियां ऐसी बन गई है कि मेरा बीजेपी में रुकना ठीक नहीं है। इसलिए मैं अब पार्टी से इस्तीफा दे रहा हूं। ‘मैं जातिगत राजनीति में विश्वास नहीं करता हूं, लेकिन लोकतंत्र में सभी जातियों की भागीदारी हो। मैं इसपर विश्वास रखता हूं।

सभी दलों को भी इसका पूरा ख्याल रखना चाहिए।” उनसे पूछा गया कि आखिर वो किस बात से नाराज हैं तो उन्होंने कहा कि बहुत विषय हैं। बातें लंबे समय से चल रहे है। प्रश्नों के उत्तर नहीं मिल रहे हैं।