Sat. Apr 13th, 2024

रामलला को समर्पित होगा विश्व का सबसे बड़ा नगाड़ा, रीवा में हो रहा तैयार

रीवा शिव बारात आयोजन समिति पिछले 40 सालों से भव्य कार्यक्रम का आयोजन कर रही है। इस बार भी कुछ खास करने के इरादे से समिति ने विशाल नगाड़े का निर्माण कराया है, जो रीवा से चलकर अयोध्या राम दरबार पहुंचेगा। ये नगाड़ा विश्व का सबसे बड़ा नगाड़ा है।

70 फीसदी काम हो चुका पूरा

दुनिया का सबसे बड़ा ढोल, वजन 1 टन, लम्बाई 11 फीटअयोध्या में भगवान राम को समर्पित होने वाला दुनिया का सबसे बड़ा नगाड़ा जल्द ही तैयार हो जाएगा, इसका 70 फीसदी काम भी पूरा हो चुका है। इसका वजन 1 टन है और इसकी ऊंचाई 6 फीट है, जबकि इसकी चौड़ाई 11 फीट है। इसके साथ ही दुनिया का सबसे बड़ा ढोल, जो अयोध्या में विराजमान भगवान राम को समर्पित होगा।

इस वर्ष होगा भव्य आयोजन

इस बार 8 मार्च को रीवा में होंने जा रहा महाशिवरात्री का पर्व बेहद खास होने वाला है क्योंकि इस दिन यहां पचमठा नाथ आश्रम में भव्य भंडारा का आयोजन होगा जिसमे लाखों भक्त प्रसाद ग्रहण करेंगे। शिव बरात आयोजन समिति के द्वारा पचमठा नाथ आश्रम से सुंदर झांकी निकाली जाएगी। इसमें धर्म ध्वजा, शहनाई, नगड़िया, घोड़ा, बग्घी बाबा महाकाल की पालकी बाहुबली हनुमान की झांकी चलित आर्केस्ट्रा सहित अन्य झाकियों के अलावा विश्व का सबसे बडा नगाड़ा भी झांकी में शामिल होगा जो शहर के विभिन्न मार्गो से होकर वापस पचमठा नाथ आश्रम पहुंचेगी।

पिछले वर्ष बना था रिकॉर्ड

12 मार्च को दुनिया का सबसे बड़ा ढोल नगाड़ा 101 चार पहिया वाहनों की बारात के साथ अयोध्या के लिए रवाना होगा। 108 स्थानों पर भक्त इनका स्वागत करेंगे। यह यात्रा मनगवां चाकघाट होते हुए इलाहाबाद पहुंचेगी। 13 मार्च को अयोध्या धाम पहुंचकर पूजा-अर्चना के बाद दुनिया का सबसे बड़ा नगाड़ा भगवान राम के चरणों में समर्पित होगा।विश्व का सबसे बड़ा नगाड़ा बड़ा रिकॉर्ड दर्ज करेगा, जिसके लिए गिनीज बुक, एशिया बुक, और लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड की टीम रीवा आएगी। पिछले वर्ष अयोजित किए गए महाशिवरात्रि में भी एक रिकॉर्ड दर्ज हुआ था, जिसमें 1100 किलो की कढ़ाई में 5100 किलो का महाप्रसाद बनकर तैयार हुआ था, जिसे एशिया का सबसे बड़ा रिकॉर्ड माना गया था।