Sat. Jun 15th, 2024

Oyo ने शुरु किए 4 सेल्फ-ऑपरेटेड होटल्स; विशेष साझेदारी के तहत 2024 में 25 नए होटल्स खोलने का लक्ष्य

लखनऊ, 14 मई 2024: ग्लोबल हॉस्पिटैलिटी टेक्नोलॉजी कंपनी, Oyo ने इस वर्ष लखनऊ में 25 सेल्फ-ऑपरेटेड होटल्स शुरू करने की घोषणा की है। अपने शुरुआती चरण के दौरान, इस श्रेणी में oyo पहले ही चार होटल शुरू कर चुका है। इनमें टाउनहाउस एमएस इन गोमती नगर सेक्टर 6, टाउनहाउस लैंडमार्क गोमती नगर मटियारी, ओयो नटराज इन नियर एसजीपीजीआई और कलेक्शन ओ ज़ारांग गोमती नगर मटियारी के नाम शामिल हैं। इसके अतिरिक्त, oyo रियल एस्टेट डेवलपर्स के साथ साझेदारी करने के लिए प्रतिबद्ध है, ताकि विभिन्न क्षेत्रों में होटलों की स्थापना के लिए उचित सम्पत्तियाँ तलाशी और विकसित की जा सकें। इन होटलों का संचालन oyo के प्रोफेशनल होटल ऑपरेटर्स करेंगे, जिससे उन्हें अपने व्यवसाय की वृद्धि और विस्तार के अवसर मिले सकेंगे।

OYO की बेबसाइट कर सकते हो बुक

ये तमाम होटल्स oyo की ऐप और वेबसाइट पर ‘सर्विस्ड बाए ओयो’ होटल्स के रूप में शामिल होंगे, ताकि उनके संचालन में ओयो की प्रत्यक्ष भागीदारी सुनिश्चित हो सके।ओयो की योजना रियल एस्टेट सेक्टर और स्थानीय जानकारी के साथ अपनी इनोवेटिव टेक्नोलॉजी और हॉस्पिटैलिटी सॉल्यूशंस के माध्यम से इसका विस्तार करना है। इस पहल के माध्यम से, शीर्ष होटल भागीदार अतिरिक्त राजस्व कमा सकते हैं, वह भी पट्टे के जोखिम या नया होटल खोलने की लागत के बिना।

इन ऑपरेटर्स को समर्पित रिलेशनशिप मैनेजर्स, ओयो के 15,000 से अधिक कॉर्पोरेट अकाउंट्स और 10,000 से अधिक ट्रैवल एजेंट्स के नेटवर्क तक पहुँच प्राप्त होगी।इनमें से अधिकांश होटल्स कंपनी की प्रीमियम होटल पेशकशों का हिस्सा होंगे, जिनमें टाउनहाउस, टाउनहाउस ओक और कलेक्शन ओ जैसे नाम शामिल हैं।इस प्रक्रिया के तहत ओयो, संपत्ति या होटल मालिकों को अपनी संपत्ति किसी बड़े संगठन को पट्टे पर देने का अवसर प्रदान कर रहा है। इसके तहत वे अपनी संपत्ति के सुरक्षित रखरखाव के लिए निश्चित किराए, रेवेन्यू शेयरिंग या मैनेजमेंट कॉन्ट्रैक्ट का विकल्प चुन सकते हैं।

कंपनी इस बात पर कड़ी नजर रखेगी कि होटल का रखरखाव कितने अच्छे से किया जाता है और ग्राहकों के इसे लेकर क्या विचार हैं। यह तय करने के बाद कि कौन-से ऑपरेटर्स सबसे अच्छा काम कर रहे हैं, उन्हें ओयो द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा।इस पहल का उद्देश्य एक ऐसे सहयोगी इकोसिस्टम की स्थापना करना है, जिसमें ओयो, होटल संचालक और संपत्ति के मालिक अतिथि-केंद्रित होटल संचालित करने के लिए एकजुट हों। यह साझेदारी के माध्यम से समुदायों में आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के कंपनी के लक्ष्य के अनुरूप है। यह कार्यक्रम ओयो के समर्पण पर प्रकाश डालता है, जो ग्राहकों को बेहतर विकल्पों की पेशकश करने पर आधारित है। चाहे हमारे मेहमान अपनी व्यावसायिक यात्रा पर हों, पारिवारिक अवकाश पर अपने शहर से बाहर आए हों, या फिर अकेले ही एडवेंचर ट्रिप पर निकले हों, उन्हें टॉप-रेटेड होटल्स में ठहरने के विभिन्न विकल्प मिलेंगे, जो न सिर्फ उनकी यात्रा को सुगम बनाएँ, बल्कि उनकी शैली, बजट एवं प्राथमिकताओं के भी अनुरूप हों।

उक्त विषय पर बोलते हुए, वरुण जैन, चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर, ओयो, ने कहा, “लखनऊ तेजी से एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में उभर रहा है, जो बड़ी संख्या में व्यवसाय के सिलसिले में और छुट्टियाँ मनाने आने वाले यात्रियों को आकर्षित कर रहा है। ऐसे में, शहर में बेहतर आवास की माँग भी तेजी से बढ़ रही है, जिसके चलते नए होटलों की तत्काल जरुरत है। होटल व्यवसायियों और संपत्ति मालिकों को इस पहल में शामिल करके, ओयो का लक्ष्य संपत्ति के मालिकों और प्रोफेशनल होटल ऑपरेटर्स के साथ-साथ यात्रियों को भी लाभ पहुँचाना है।” इस अवसर पर टिप्पणी करते हुए, होटल लैंडमार्क के मालिक चमन गुप्ता ने कहा, “मेरे वेंचर के साथ-साथ होटल व्यवसाय का प्रबंधन, मेरे लिए बहुत बड़ी चुनौती थी। जब से मैंने ओयो की टीम को इसके प्रबंधन का कार्य सौंपा है, तब से मुझे इस समस्या से काफी राहत मिली है।

मैं यह देखकर काफी खुश हूँ कि मेरी संपत्ति का उचित प्रकार रख-रखाव किया जा रहा है और इसे पूरी तरह साफ-सुथरा रखा जा रहा है। ओयो की टीम अपने वादों को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है और मैं इसकी सराहना करता हूँ, विशेष रूप से किराए की राशि अदा करने के संबंध में। इसे बेहद आसान, सुविधाजनक और परेशानी मुक्त बनाने के लिए मैं ओयो का आभारी हूँ।”ओयो रूम्स ने अपने टेक स्टैक को और भी अधिक सरल, आधुनिक और डिजिटल बना दिया है, जिसका उद्देश्य इसके भागीदारों को अपनी पहुँच और राजस्व बढ़ाने में मदद करना है। इसके अपडेटेड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट्स, जैसे कि को-ओयो, भागीदारों को सशक्त बनाता है, जिससे वे ओयो की संख्या में वृद्धि हेतु स्वयं के प्रचार प्रस्ताव पेश कर सकते हैं और उनका उचित प्रकार प्रबंधन भी कर सकते हैं। वहीं, एआई-आधारित सेल्फ-ऑनबोर्डिंग टूल, ओयो 360, एक सहज टू-क्लिक प्लेटफॉर्म प्रदान करता है, जिसकी सहायता से भागीदार अपनी संपत्तियों को नामांकित कर सकते हैं। एक साधारण समीक्षा के रूप में, महज़ एक क्लिक से ये सम्पत्तियाँ सभी प्लेटफॉर्म्स पर केवल 30 मिनट में लाइव हो जाएँगी।

LSG ने GT के खिलाफ हासिल की IPL इतिहास की पहली जीत, घर में गुजरात को 33 रन से हराया

लखनऊ सुपरजाइंट्स (LSG) ने गुजरात टाइटन्स (GT) को दूसरे मुकाबले में 33 रन से हरा दिया। यह लखनऊ (LSG) की गुजरात टाइटन्स (GT) के खिलाफ आईपीएल (IPL) के इतिहास में पहली जीत है। मैच में लखनऊ (LSG) ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 163 रन बनाए। जवाब में गुजरात(GT) की टीम 130 रन पर आलॅआउट हो गई। लखनऊ (LSG) की ओर से यश ठाकुर ने 5 विकेट लिए। वें इस सीजन पांच विकेट लेने वाले पहले गेंदबाज बने।

LSG ने बनाया 163 रन का स्कोर

मैच में लखनऊ (LSG) ने टाॅस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। LSG की ओर से कप्तान के एल राहुल और क्लिंटन डी काॅक ओपनिंग करने आए। लेकिन क्विंटन डी काॅक महज 6 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद देवदत्त पाडिकल भी 7 रन बनाकर चलते बने। 2 विकेट गिरने के बाद कप्तान के एल राहुल के साथ मार्कस स्टोनिस ने पारी को संभाला। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 73 रनों की साझेदारी की। इस साझेदारी दर्शन नालकंडे ने के एल राहुल को 33 रन के स्कोर पर आउट कर दिया।

इसके बाद मार्कस स्टोनिस ज्यादा देर नहीं रूके। वें अपना अर्धशतक बनाने के बाद 58 रन बनाकर दर्शन का शिकार बने। इसके बाद अंत में निकोलस पूरन ने 32 रनों की नाबाद पारी खेली। इनकी पारी की बदौलत लखनऊ ने 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 163 रन बनाए। गुजरात की ओर से दर्शन और उमेश यादव ने 2-2 विकेट हासिल किए।

यश के आगे सरेंडर हुआ GT

जवाब में गुजरात टाइटन्स की ओर से कप्तान शुभमन गिल के साथ इस पारी में साहा की जगह सुदर्शन ओपनिंग करने आए। दोनों बल्लेबाजों ने टीम की ओर से पहले विकेट के लिए 54 रन जोड़े। इसके बाद गिल 19 रन बनाकर यश ठाकुर का शिकार बने। इसके बाद रवि बिश्नोई ने अपनी ही गेंद पर एक शानदार कैच पकड़कर केन विलियम्सन को 1 रन के स्कोर पर पवेलियन लौटा दिया।

इसके बाद यश ने अच्छे दिख रहे सुदर्शन को 31 रन के स्कोर पर आउट हुए। इसके बाद टीम के विकेट लगातार गिरते रहे। अंत में गुजरात की ओर से राहुल तेवतिया ने 30 रन बनाकर लड़ने की कोशिश की। लेकिन यश ने उन्हें भी आउट कर गुजरात की सारी उम्मीदें समाप्त कर दी और गुजरात की पूरी टीम 130 रन पर सिमट गई। मैच में लखनऊ ने 33 रन से जीत हासिल की। लखनऊ की ओर से यश ठाकुर ने सबसे ज्यादा 5 विकेट हासिल किए।

यह भी पढे – IPL के 17वें सीजन में मुंबई ने हासिल की पहली जीत, घर में दिल्ली को 29 रन से हराया