Tue. Apr 23rd, 2024

सिंधिया के गढ़ से राहुल गांधी की न्याय यात्रा प्रारंभ, अध्यक्ष के दायित्व के बाद जीतू पटवारी की पहली बार अग्नि परीक्षा

राहुल गांधी यात्रा के दौरान मुरैना से उज्जैन तक अलग-अलग समूहों में संवाद करेंगे। इनमें अग्निवीर योजना के उम्मीदवारों, पूर्व सैनिकों, किसानों, पटवारी परीक्षार्थियों, एमपीपीएससी की तैयारी कर रहे युवाओं, महिलाओं आदि से संवाद करेंगे…

मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का दायित्व मिलने के बाद पहली बार जीतू पटवारी (Jitu Patwari) की अग्नि परीक्षा होने जा रही है। दरअसल, कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की भारत जोड़ो न्याय यात्रा एमपी आ रही है। मार्च महीने के पहले सप्ताह में यह यात्रा एमपी में आएगी। भारत जोड़ो न्याय यात्रा में किसी तरह की कोई चूक न हो, इसके लिए पीसीसी चीफ पटवारी अलर्ट हैं और प्रदेश भर का दौरा कर चुके हैं। इसी क्रम में पटवारी मंगलवार से फिर प्रदेश के दौरे पर निकलेंगे। राहुल अपनी इस यात्रा के जरिए सात लोकसभा सीटों को कवर करेंगे। इनमें मुरैना, ग्वालियर, रतलाम, देवास, गुना, राजगढ़ और उज्जैन सीट शामिल है। कांग्रेस ने राहुल गांधी की यात्रा के पूरे रूट पर हर स्थान के लिए एक नेता को जिम्मेदारी दी है। स्वागत, रोड शो, नुक्कड़ सभा, दोपहर भोजन, रात्रि विश्राम, संवाद और जनसभा के लिए वरिष्ठ नेताओं को जिम्मेदारी सौंपी गई है। दोपहर 12 बजे बदनावर में ही राहुल गांधी जनसभा को संबोधित करेंगे

कमलनाथ करेंगे राहुल गांधी की यात्रा का स्वागत

सूत्रों के मुताबिक 2 मार्च को राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा का कमलनाथ ग्वालियर में स्वागत करेंगे। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ दो मार्च से लगातार राहुल गांधी के साथ रहेंगे। कमलनाथ ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि हमारे नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा कल 2 मार्च को मुरैना से मध्यप्रदेश में प्रवेश करेगी। यह यात्रा भारत के सभी वर्गों को न्याय देने की यात्रा है। यह जन जागरण और नया भारत रचने के सपने की यात्रा है।