Sat. Apr 13th, 2024

मोदी जी ने किया देश की अनेक रेल परियोजनाओं का शिलान्यास, 41,000 करोड़ की सौगात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश भर में 554 रेल परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। जिसमे अमृत भारत रेलवे स्टेशन योजना के अंतर्गत रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास व ओवरब्रिज, अंडरपास का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया गया।

इसकी अलावा 41,000 करोड़ रुपये से अधिक की लगभग 2,000 रेलवे बुनियादी ढांचा परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इस दौरान उन्होंने कुछ परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित करते हुए, प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से ‘प्रधानमंत्री अमृत भारत स्टेशन योजना’ के तहत 553 रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास का शिलान्यास किया। 27 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में स्थित इन स्टेशनों का 19,000 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से पुनर्विकास किया जाएगा।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने प्रदेश के 33 से अधिक रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास की सौगात देने के लिए प्रधानमंत्री मोदी का आभार माना। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में प्रदेश में 77 हजार करोड़ रुपए के निर्माण कार्य जारी हैं, प्रदेश में रेलवे सुविधाओं का लगातार विस्तार हो रहा है, और हमें नई तकनीक और नई व्यवस्थाओं के साथ विश्व स्तरीय रेलवे स्टेशन एवं रेल सुविधाएं प्राप्त हो रही हैं।

उत्तर-पश्चिम रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी कैप्टन शशि किरण ने बताया, अमृत स्टेशनों के शिलान्यास के अलावा सवाई माधोपुर-जयपुर रेल मार्ग पर 2 आरओबी व 1 (LHS) सीमित ऊंचाई के पुल, रेवाड़ी-जयपुर रेल मार्ग पर 3 आरओबी, 4 आरयूबी व 1 (LHS), जयपुर-मदार रेल मार्ग पर 3 आरओबी,1 आरयूबी, आरपीसी रेल मार्ग पर 2 आरओबी,1 आरयूबी, जयपुर-सीकर-चूरू रेल मार्ग पर 1 आरओबी,1 आरयूबी, सीकर-लोहारू रेल मार्ग पर 5 आरयूबी,1 (LHS) सीमित ऊंचाई के पुल व दौसा-गंगापुर सिटी रेल मार्ग पर 2 आरओबी, 2 आरयूबी व 14 (LHS) सीमित ऊंचाई के पुल बनाने के कामों का भी शिलान्यास और लोकार्पण किया।

प्रधानमंत्री का क्या है कहना

प्रधानमंत्री ने कहा कि रेलवे लाइन बिछाने की गति दोगुनी हो गई। आज ऐसी जगहों पर रेल पहुंच रही है, जिसकी लोगों ने कल्पना भी नहीं की। जैसे बैंक में जमा पैसे पर ब्याज मिलता है, वैसे इंफ्रास्ट्रक्चर पर लगी पाई से रोजगार के साधन बनते हैं। हमारी रेल छोटे किसानों को बढ़ावा देने वाली है। इसके लिए स्टेशनों पर विशेष दुकानें बनाई गई हैं। रेल की गति बढ़ेगी और उत्पादन तेजी से मार्केट पहुचेंगे और उद्योगों की लागत कम होगी। आज पूरी दुनिया में भारत को निवेश के लिए सबसे आकर्षक माना जा रहा है। इसका कारण आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर है।