Sat. Apr 13th, 2024

शाजापुर में अवैध खनन रोकने गए खनिज विभाग पर पथराव, जान बचाकर भागे अधिकारी

Shajapur Illegal Mining : कभी माफिया प्रशासन से भागते थे आज सरकारी अमला माफियाओं से डरकर भाग रहा है, शाजापुर में अवैध उत्खनन करने वाले माफिया और ग्रामीणों ने माइनिंग विभाग की टीम पर हमला किया अवैध खनन रोकने गए अधिकारी अपनी जान बचाकर भागे।
शाजापुर। विधानसभा चुनाव के दौरान तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Shivraj singh chouhan) का एक बयान खूब चर्चा में रहा था “यह मैं हूं, यह मेरी सरकार है, यह मेरी प्रशासनिक टीम है और आप देखो कि माफिया भाग रहे हैं”। लेकिन वही भाजपा की सरकार फिर बनी लेकिन सुबे की जिम्मेवारी डॉ मोहन यादव के पास और अब उल्टा हो रहा माफिया बोल रहे “यह मैं हूँ यह मेरी अवैध खदान है और देखो खनिज विभाग भाग रहा है”

शाजापुर के कालापीपल का है वकया

जिले के कालापीपल तहसील के मोहम्मदपुर मछनई गांव में नदी क्षेत्र में अवैध उत्खनन की शिकायत माइनिंग विभाग को मिली थी। इस शिकायत के बाद माइनिंग विभाग के अधिकारी शाजापुर जिले में खनिज उत्खनन का ठेका लेने वाली निजी कंपनी के लोगों के साथ यहां कार्रवाई करने पहुंचे थे। मौके पर पोकलेन मशीन भी मिली और इसी दौरान माइनिंग विभाग के दल पर ग्रामीणों ने जबरदस्त पथराव कर दिया।


कंजर समुदाय ने की पत्थरबाजी

अवैध उत्खनन रोकने गए प्रशासनिक अधिकारियों के दल और कंजर समुदाय के अवैध उत्खननकर्ताओं के बीच यह पत्थरबाजी की घटना हुई। जिला खनिज अधिकारी आरिफ खान शाजापुर पुलिस लाइन से अतिरिक्त रिजर्व फोर्स के साथ अवैध उत्खनन की सूचना पर पोकलेन मशीन जब्त करने के लिए मोहम्मदपुर मछनई के पास नदी क्षेत्र में पहुंचे थे।

ग्रामीणों ने किया हमला जान बचाकर भागे अधिकारी

यहां पहुंचते ही ग्रामीणों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। उनका कहना था कि ठेकेदार के प्राइवेट गुंडे लेकर अफसर बंद पड़ी पोकलेन मशीन को जबरन जब्त करने आए हैं। इसके बाद अवैध उत्खनन में लगे लोगों ने पथराव शुरू कर दिया और गाड़ियों में तोड़फोड़ शुरू कर दी।

अतिरिक्त पुलिस बल गांव रवाना

पत्थरबाजी की सूचना के बाद शुजालपुर थाना प्रभारी, एसडीएम सत्येंद्र कुमार सिंह, एसडीओपी पिंटू कुमार बघेल, कालापीपल पुलिस थाना प्रभारी जितेंद्र वर्मा सहित अतिरिक्त पुलिस बल गांव के लिए रवाना किया गया है। बताया जा रहा है खनिज विभाग का दल बिना स्थानीय प्रशासनिक अमले, लोकल पुलिस प्रशासन को सूचना दिए बगैर यहां बिना तैयारी किए यहां कार्रवाई करने के लिए पहुंचा था।