Wed. Jul 17th, 2024

22 फरवरी से शुरू होगी बोर्ड परीक्षा की उत्तर पुस्तिका की चेकिंग, जानिए एक काॅपी चेक करने के शिक्षक को कितने रुपये मिलते हैं

एमपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षा जारी है।  5 और 6 फरवरी से शुरू होने वाली दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं 28 फरवरी और 5 मार्च, 2024 को समाप्त हो जाएंगी। शिक्षा विभाग ने इसी के साथ उत्तरपुस्तिकाओं के मूल्यांकन की तैयारी भी शुरू कर दी। विभाग के अनुसार 22 फरवरी से कक्षा 10वीं-12वीं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन शुरू हो जाएगा। तब तक दोनों कक्षाओं के प्रमुख पेपर हो जाएंगे।

कैमरे से होगी निगरानी

वहीं स्कूल के कमरों में माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा अलग से कैमरे लगाए गए हैं। जिससे मूल्यांकन की मॉनिटरिंग कैमरों के माध्यम से ऑनलाइन भोपाल में बैठे अधिकारियों द्वारा की जाएगी। इन कैमरों की खास बात यह है कि स्पष्ट तस्वीर के साथ मूल्यांकन कक्ष में हो रही आवाज भी रिकॉर्ड होगी। यही वजह है कि इस बार मूल्यांकन कार्य भी विशेष सावधानी के साथ किया जाएगा।

24 घंटे पुलिस बल रहेगा तैनात

इस बार पहले चरण में कॉपियों का मूल्यांकन 22 फरवरी से किया जाएगा। कॉपीयो को जिले के शासकीय स्कूल के स्ट्रांग रूम में रखा जाएगा। जहां पर 24 घंटे पुलिस बल तैनात रहेगा। पहले चरण में 10वीं की हिंदी एवं संस्कृत एवं 12वीं की हिंदी व अंग्रेजी विषय की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन होगा। मूल्यांकन कार्य के लिए एक कलेक्टर प्रतिनिधि की भी अलग से नियुक्ति की जाएगी।

10वीं के लिए 12 रुपए और 12वीं के 13 रुपये मिलेंगे

सभी विषयों की उत्तर पुस्तिकाओं को विषय विशेषज्ञ और तीन साल के अनुभवी शिक्षक ही चेक करेंगे। स्कूल के कक्षों में उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य सुबह 10.30 बजे से शाम 5.30 बजे तक चलेगा। शिक्षक कक्ष में रहकर ही मूल्यांकन कार्य करेंगे। मूल्यांकन के दौरान कोई भी शिक्षक मोबाइल फ़ोन का उपयोग नहीं कर सकेंगे। कक्षा 10वीं की प्रत्येक उत्तर पुस्तिका जांचने पर शिक्षकों को 12 रुपए और कक्षा 12वीं की उत्तर पुस्तिका चैक करने पर मिलेंगे 13 रुपए मिलेंगे। इस बार एमपी बोर्ड ने परीक्षा के बाद मूल्यांकन प्रक्रिया में बदलाव किया है। इस बार उत्तर पुस्तिका में स्टीकर की जगह बारकोड लगाया जायेगा। इस बारकोड के माध्यम से शिक्षक आसानी से छात्रों के नंबर चढ़ा सकेंगे।