Wed. Jul 17th, 2024

विदिशा में 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ाया पटवारी

विदिशा जिले की सिरोंज तहसील के पटवारी को लोकायुक्त ने 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथ दबोचा। पटवारी जमीन के रकबा सुधारने के लिए 10 हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा था।

जाने क्या है मामला

लोकायुक्त पुलिस ने गुरुवार को विदिशा जिले की सिरोंज तहसील में पटवारी विकास जैन को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते दबोचा है। जानकारी के अनुसार आवेदक रामप्रसाद कुशवाह निवासी ग्राम पारधा ने आवेदन दिया था। कुशवाह ने बताया कि उन्होंने अपने समधी माथुरालाल की खेती की जमीन के रकबे को सुधारने के लिए पटवारी से बात की। पटवारी ने उनको 10 हजार रुपयों की रिश्वत की मांग की। उन्होंने बताया कि मथुरालाल को पटवारी विकास जैन एक साल से चक्कर लगावा रहा है। और वह बिना रिश्वत के काम करने को तैयार ही नहीं था। मथुरालाल के पैर में चोट होने से ज्यादा चलने में उसे दर्द होता है। इसलिए उन्होंने रामप्रसाद कुशवाह को अपना काम कराने के लिए कहा। पटवारी विकास जैन ने रामप्रसाद से 10 हजार रुपए की रिश्वत मांगी और होली के बाद राशि लेकर आना तय किया।

एक कमरे में कर रहा था निजी कार्यालय संचालित

पटवारी ने अपने शासकीय कार्यों के लिए दिल्ली दरवाजा मोहल्ले में एक निजी कक्ष ले रखा है। इसी कक्ष में रामप्रसाद से पटवारी ने 10 हजार रुपए लिए। जहां लोकायुक्त पुलिस ने उसे रंगे हाथों दबोच लिया। भोपाल की टीम में इंस्पेक्टर रजनी तिवारी इंस्पेक्टर नीलम पटवा, प्रधान आरक्षक राजेंद्र पावन, मुकेश सिंह, मुकेश पटेल, अवध बाथवी, संदीप सिंह शामिल थे। तिवारी ने बताया कि पटवारी ने शासकीय कार्य के लिए यह कमरा किराए पर लिया था। इस कमरे में वह अपना निजी कार्यालय संचालित कर रहा था। आरोपित पटवारी के विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत कार्रवाई की गई है।

झोपड़ी वाले विधायक मुकदमे के बाद हुए फरार, वीडियो जारी कर बीजेपी पर लगाया लगातार परेशान करने का आरोप

रतलाम जिले के सैलाना विधानसभा के विधायक कमलेश्वर डोडियार की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है। दरअसल रतलाम जिले के सैलाना विधानसभा के झोपड़ी वाले विधायक कमलेश डोडियार के खिलाफ एक करोड़ रुपये की रिश्वत मांगने के आरोप में गुरुवार को मामला दर्ज किया गया था। सैलाना थाने में गुरुवार को विधायक डोडियार के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज होने के बाद वे फरार हो चुके हैं।

ये सब भाजपा की साजिश, कर रही लगातार परेशान

मुकदमे के बाद विधायक ने वीडियो जारी कर भाजपा पर आरोप लगाए हैं। वीडियो में विधायक कहते नजर आ रहे हैं कि फर्जी बंगाली डॉक्टर के आवेदन पर मेरे खिलाफ पैसे मांगने के आरोप लगाए गए हैं और झूठी कार्रवाई की गई है। जिस फर्जी बंगाली डॉक्टर के खिलाफ सीएमएचओ व बीएमओ के माध्यम से क्लिनिक पर कार्रवाई की गई थी, जिसके पास कोई डिग्री नहीं है। अवैध तरीके से क्लीनिक चला रहा था, क्लीनिक का कोई रजिस्ट्रेशन भी नहीं है। विधायक ने रतलाम, झाबुआ, अलीराजपुर के मतदाताओं से आह्वान करते हुए कहा कि भाजपा को बुरी तरह से हरवाए। मुझे भाजपा लगातार परेशान करती आ रही है। विधायक बनने के बाद लगातार झूठे प्रकरण दर्ज कर जेल में बंद करने की कोशिश कर रही है।

क्या है पूरा मामला?

बाजना निवासी डॉक्टर तपन राय से एक करोड़ रुपये मांगने के मामले में प्रकरण दर्ज होने के बाद अब सैलाना के एक और व्यापारी का ऑडियो वायरल हो रहा है। इसमें विधायक डोडियार अपने 15 लड़कों को मैनेज करने की बात कह रहे हैं। इस पर व्यापारी कह रहा है कि मैं व्यवस्था कर रहा हूंसम्मानजनक काम कर दूंगा। सूत्रों की मानें तो सैलाना थाने में उक्त व्यापारी ने भी सैलाना थाने पर विधायक डोडियार के खिलाफ आवेदन दिया है। सूत्रों के अनुसार शुक्रवार सुबह रतलाम और सैलाना के बीच स्थित डेलनपुर टोल नाका से विधायक की गाड़ी निकलना बताया जा रहा है। मामले में एसपी राहुल कुमार लोढ़ा ने कहा कि विधायक डोडियार के खिलाफ जांच के आधार पर हुए मुकदमे के बाद गिरफ्तारी के लिए तलाश की जा रही है। मेडिकल स्टोर संचालक की शिकायत पर एफआईआर के मामले में जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। साथ ही एक अन्य व्यापारी की वॉइस रिकॉर्डिंग भी सामने आई है। जिसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। संबंधित व्यापारी को तलाश किया जा रहा है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।