Tue. Mar 5th, 2024

मध्यप्रदेश को मिला पीएम मोदी से मिला बड़ा तोहफा, प्रदेश को दी 17,500 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एमपी को बड़ी सौगात दी है। उन्होने वर्चुअली जुड़कर 17,500 करोड़ रुपये की लागत वाली परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इसमें पेयजल और सिचाईं की परियोजनाएं हैं। इनमें बिजली, सड़क, रेल, खेल परिसर सामुदायिक सभागार और अन्य उद्योगो में जुड़े प्रोजेक्ट्स हैं। इस मौके पर पीएम मोदी ने मध्य प्रदेश की जनता को संबोधित भी किया।

भाजपा सरकार यानी गति भी और प्रगति भी

मध्यप्रदेश की जनता को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि खेती, उद्योग और टूरिज्म पर फोकस कर रही है। मां नर्मदा पर बन रही तीन जल परियोजनाओं का शिलान्यास हुआ है। इनसे सिंचाई और पेयजल की समस्याओ का निराकरण होगा। मध्य प्रदेश में केन-बेतवा लिंक परियोजना से बुंदेलखंड के लाखों परिवारों का जीवन बदलने वाला है। किसानों के खेत तक पानी पहुंचता है तो इससे बड़ी सेवा क्या हो सकती है? भाजपा सरकार और कांग्रेस की सरकार के बीच का क्या अंतर होता है, इसका उदाहरण सिंचाई परियोजना भी है। 2014 से पहले के दस वर्षों में देश में लगभग 40 लाख हैक्टेयर भूमि को सूक्ष्म सिंचाई के दायरे में लाया गया था। बीते दस वर्ष के हमारे सेवाकाल में हमने दोगुना लगभग 90 लाख हैक्टेयर खेती को सूक्ष्म सिंचाई से जोड़ा गया है। यह दिखाता है कि भाजपा सरकार की प्राथमिकता क्या है, यह दिखाता है कि भाजपा सरकार यानी गति भी और प्रगति भी।

जिसे कोई नहीं पूछता है, उन्हें मोदी पूछता है

मध्यप्रदेश के युवाओं को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आपके सपने को पूरा करना ही मोदी का संकल्प है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश आत्मनिर्भर भारत, मेक इन इंडिया का मजबूत स्तंभ बनेगा। मुरैना के सीतापुर में मेगा लेजर एंड फुटवेयर क्लस्टर, इंदौर में रेडीमेड गारमेंट इंडस्ट्री के लिए पार्क, मंदसौर में इंडस्ट्रियल पार्क का विस्तार, धार में इंडस्ट्रियल पार्क का निर्माण इसी दिशा में उठाए जा रहे कदम है। कांग्रेस की सरकारों ने मैन्युफैक्चरिंग की हमारी पारंपरिक ताकत को भी बर्बाद कर दिया था। खिलौना बनाने की हमारी बड़ी परंपरा रही है। स्थिति यह थी कि कुछ साल पहले तक हमारे बाजार और घर विदेशी खिलौनों से भरे पड़े थे। हमने देश के खिलौने बनाने वाले पारंपरिक परिवारों को विश्वकर्मा परिवार के तौर पर मान्यता दी। विदेशों से खिलौनों का आयात कम हो गया है। जितने खिलौने हम आयात कर रहे थे, उससे दोगुना हम निर्यात कर रहे हैं। बुधनी के खिलौना बनाने वालों के लिए अनेक अवसर मिलने वाले हैं। इससे खिलौना निर्माण को बल मिलेगा। जिन्हें कोई नहीं पूछता है, उन्हें मोदी पूछता है।

मध्य प्रदेश अजब है और गजब भी है

पीएम मोदी ने कहा कि पर्यटन में भी बढ़ोतरी हो रही है। इसका लाभ मध्य प्रदेश को भी मिल रहा है। मध्य प्रदेश अजब है और गजब भी है। ओंकारेश्वर और ममलेश्वर में श्रद्धालुओं की संख्या में भारी बढ़ोतरी हुई है। ओंकारेश्वर में विकसित किए जा रहे एकात्म धाम की वजह से यह संख्या और बढ़ेगी। 2028 में उज्जैन में सिंहस्थ होने वाला है। इच्छापुर से इंदौर तक फोन लेन बनने से श्रद्धालुओं को सुविधा होगी। रेल परियोजनाओं से भी मध्य प्रदेश की कनेक्टिविटी भी सशक्त होगी।

मध्य प्रदेश कांग्रेस निकालेगी राम यात्रा, यात्रा के जरिए सरकार को महंगाई, बेरोजगारी की याद दिलाएंगे

मध्य प्रदेश में बढ़ रही महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर सरकार का ध्यान आकर्षित करने के लिए कांग्रेस राम यात्रा निकालने वाली है।प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी ने इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सही समय पर राम मंदिर यात्रा भी होगी और भगवान श्रीराम के दर्शन भी किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि अभी मध्य प्रदेश में हम राम यात्रा निकाल के सरकार का ध्यान जनता से जुड़ी समस्याओं को लेकर खींचने की कोशिश करेंगे

राम यात्रा में जनता से जुड़ी समस्याओं की याद दिलाएंगे

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी ने कहा कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस राम यात्रा निकालेगी। यात्रा के जरिए हम जनता को महंगाई, बेरोजगारी की याद दिलाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के कांग्रेस कार्यकर्ता भगवान राम के दर्शन करते हुए भाजपा के जनता से किए वादे याद दिलाएंगे।

उन्होंने कहा कि भगवान श्रीराम का मंदिर बना उसके लिए स्वागत भी है, सत्कार भी और खुशी भी है। कांग्रेस पार्टी ने कभी इस मामले में कुछ नहीं कहा, केवल इतना कहा कि कोर्ट के आदेश से जो भी होगा वह स्वीकार होगा। कोर्ट के आदेश से जो हुआ उसकी खुशी है। जब कोर्ट ने मंदिर के ताले खुलवाने का आदेश दिया था तब वह ताले खुलवाए गए थे।

सोनिया जी और राहुल जी से पूछ लें : वीडी

जीतू पटवारी की राम यात्रा को लेकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी ने कहा कि वह दिग्विजय सिंह से तो पूछ लें पहले। कमलनाथ जी तो गए, लेकिन सोनिया जी और राहुल जी से पूछना चाहिए। पहले उनको ये कमिट कर लें कि सोनिया जी राहुल जी ने ओके किया है कि नहीं किया है।

शर्मा ने कहा कि राम मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा किसी राजनीतिक दल का काम नहीं था। पॉलीटिकल काम नहीं था। तो वो तब कहां गए थे। शर्मा ने कहा कि कम से कम ऐसे जो नए लोग आए हैं इन्हें तो सोचना चाहिए की दोहरा चरित्र तो ना रखें। पहले उनकी पार्टी की नीतियां क्या हैं। उनकी पार्टी चाहती क्या है? तब आगे बढ़ो। दोहरा चरित्र तो मध्य प्रदेश की जनता क्या, देश ने देखा है और कांग्रेस अप्रासंगिक हो गई है, मध्यप्रदेश से तो पलायन करने लगी है।

मध्यप्रदेश में आदिवासी युवक के पिटाई का मामला, दो आरोपी हुए गिरफ़्तार

मध्य प्रदेश के बैतूल में कुछ युवकों के द्वारा एक आदिवासी युवक राज उइके(22) के साथ मारपीट की गई, उसे मुर्गा बनाया गया और इतना ही नहीं बल्कि उसका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल भी किया। इस मामले में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं आरोपी की शिकायत पर भी दो लोगों को पकड़ लिया है।

आखिर क्या है मामला?

कोतवाली टीआई आशीष सिंह पंवार ने बताया कि रविवार को पीड़ित राज उइके निवासी खंजनपुर दादाजी मंदिर के पास ने शिकायत की थी कि चंचल सिंह राजपूत, डेन एवं चंदन सरदार के द्वारा उसका रास्ता रोककर सुभाष स्कूल के पास से अपहरण कर उसे स्कार्पियो पर उठाया गया और लल्ली चौक के पास एक पान की दुकान के सामने शनिवार की देर रात पिटाई की।

टीआई पंवार ने बताया कि 8 फरवरी को चंचल सिंह राजपूत निवासी रातामाटी ने कोतवाली में शिकायत दर्ज कराई थी कि बस स्टैंड के पास आरोपी गुल्लू चित्रार, अंकित चित्रार, नंदी झरबड़े एवं नावेद खान द्वारा उसके साथ मारपीट की गई है। पुलिस ने इस मामले में तीनों आरोपियों के खिलाफ धारा 294, 323, 506, 34, 341, 365 और एससी, एसटी एक्ट के तहत मामला कायम कर आरोपी चंचल सिंह राजपूत (बजरंग दल में संभाग सह संयोजक) और चंदन सरदार को गिरफ्तार कर सोमवार को न्यायालय में पेश किया है।

कोर्ट के द्वारा दी गई जमानत

मामले में पीड़ित युवक ने न्यायालय में एफिडेविट प्रस्तुत किया है कि जिस चंदन सरदार के नाम से रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी गिरफ्तार हुआ चंदन सरदार वो नहीं है और ये वारदात करने वाला चंदन सरदार नहीं था। चंचल सिंह राजपुत और चंदन सरदार को न्यायालय से जमानत मिल गई है। पुलिस ने दोनों को एससी-एसटी स्पेशल कोर्ट में पेश किया था, जहां कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी है।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने गढ़ गुना को किया मजबूत, लोकसभा चुनाव में हराने वाले प्रतिद्वंदी के भाई को किया अपने खेमे में

मध्य प्रदेश में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की लोकसभा चुनावों की तैयारी तेज हो गई है। कांग्रेस में रहते हुए जिस गुना-शिवपुरी सीट पर उन्हें भाजपा के केपी यादव ने हराया था, वहां से उन्होंने दावेदारी प्रबल कर ली है। गुना सांसद केपी यादव के भाई को सिंधिया ने भाजपा की सदस्यता दिलाई।

सिंधिया ने दिलाई सदस्यता

यह बात अहम है क्योंकि अजय पाल यादव ने अपने भाई के बजाय सिंधिया के हाथों भाजपा की सदस्यता ली है। मध्य प्रदेश की 29 में से 28 सीटों पर भाजपा ने जीत हासिल की थी। उससे पहले गुना सिंधिया का गढ़ माना जाता था। 2020 में भाजपा में शामिल हुए सिंधिया इस समय राज्यसभा सदस्य हैं।

मध्य प्रदेश के विकास के लिए समर्पित

मंत्री सिंधिया ने कहा कि आज का दिन हम सभी के लिए खास है। विश्व में लोकप्रिय हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी झाबुआ आए हैं। जैसे मोदी जी के मन में मध्य प्रदेश है। इसी तरह मध्य प्रदेश के मन में मोदी हैं। उनका अभूतपूर्व स्वागत आज हुआ है। उन्होंने दस हजार करोड़ रुपये की परियोजनाएं मध्य प्रदेश को दी हैं। खासकर आदिवासी भाई-बहनों के खातों में 1,500 रुपये की मासिक राशि प्रधानमंत्री ने पहुंचाई है। प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में पूर्ण निष्ठा के साथ मध्य प्रदेश को राष्ट्रीय स्तर पर अव्वल पंक्ति में लाएंगे।

पीएम मोदी ने किया लोकसभा चुनाव का शंखनाद, झाबुआ में मप्र को दी 7500 करोड़ रुपये की सौगात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मध्य प्रदेश के दौरे पर रहे। पीएम झाबुआ में विशाल जनजातीय रैली को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी (PM Modi) लगभग 7500 करोड़ रुपये की कई विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान दी गई गारंटियों को भी पीएम मोदी ने पूरा किया। इसी के साथ पीएम ने लोकसभा चुनाव का भी शंखनाद किया।

पीएम ने दी ये सौगात

पीएम टंट्या मामा भील विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी। इस विश्वविद्यालय से क्षेत्र में उच्च जनजातीय बहुलता वाले जिलों के युवाओं को सीधा लाभ मिलेगा। करीब 170 करोड़ की लागत से विकसित होने वाला यह विश्वविद्यालय छात्रों के समग्र विकास के लिए विश्वस्तरीय अवसंरचना प्रदान करेगा। नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत 559 गांवों के लिए 55.9 करोड़ रुपए जारी किया। इस राशि का उपयोग आंगनबाड़ी भवन, राशन की दुकानें, स्वास्थ्य केंद्र, स्कूलों में अतिरिक्त कमरे, आंतरिक सड़कों सहित विभिन्न प्रकार की निर्माण गतिविधियों के लिए किया जाएगा।

  • प्रधानमंत्री मध्य प्रदेश में 3275 करोड़ से अधिक की कई सड़क विकास परियोजनाओं को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। इसके अलावा पीएम अपशिष्ट डंपसाइट उपचार, विद्युत सबस्टेशन जैसी अन्य विकास योजनाओं का भी लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे।
  • रतलाम रेलवे स्टेशन और मेघनगर रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास की आधारशिला रखी जाएगी। इन स्टेशनों का पुनर्विकास अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत किया जाएगा। राष्ट्र को समर्पित रेल परियोजनाओं में इंदौर, देवास, उज्जैन सी केबिन रेलवे लाइन के दोहरीकरण की परियोजनाएं शामिल हैं।
  • प्रधानमंत्री झाबुआ में सीएम राइज स्कूल का शिलान्यास करेंगे। स्कूल छात्रों को स्मार्ट क्लास, ई-लाइब्रेरी जैसी आधुनिक सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रौद्योगिकी को एकीकृत करेगा।
  • प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के लाभार्थियों को 1.75 लाख अधिकार अभिलेख वितरित करेंगे। इससे लोगों को उनकी जमीन के अधिकार के लिए दस्तावेजी साक्ष्य उपलब्ध हो जाएंगे।
  • प्रधानमंत्री लगभग 2 लाख महिला लाभार्थियों को आहार अनुदान योजना के तहत आहार अनुदान की मासिक किस्त का वितरण करेंगे. इस योजना के तहत मध्य प्रदेश की विभिन्न विशेष पिछड़ी जनजातियों की महिलाओं को पौष्टिक आहार के लिए 1500 रुपए प्रति माह दिए जाते हैं।
  • PM मोदी पानी के लिए कई परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे। जो मध्य प्रदेश में जलापूर्ति और पीने के पानी की व्यवस्था को मजबूत करेगी।