Sat. Jun 15th, 2024

MP में लोकसभा चुनाव में करारी के हार के Congress में फूटी बड़ी दरार, अपने ही नेताओं के खिलाफ कड़ा एक्शन को लेने को कहा इस नेता ने

By Amit Rajput Jun 8, 2024 #MP #NEWS #Update

MP में Congress की हालत बद से बदतर होती जा रही है। पार्टी को विधानसभा चुनाव में जीत की अपेक्षा थी लेकिन पार्टी को चुनाव में बड़ी हार मिली और दिग्गज भी अपनी सीट नहीं बचा पाए। इसके बाद लोकसभा चुनाव में पार्टी को अपने गढ़ छिंदवाड़ा बचाना और नई सीटें लाने की उम्मीद थी लेकिन पार्टी यह भी नहीं कर पायी और प्रदेश से पूरी तरह सूपड़ा साफ हो गया। पार्टी के इस हालत से खुद की पार्टी के नेता ही नाराज नजर आ रहे हैं और पार्टी के नए प्रदेश अध्यक्ष और दिग्गज नेताओं पर दिल्ली आलाकमान से बड़े फैसले लेने की मांग कर रहे हैं। इसको लेकर पार्टी के नेता अजय सिंह मीडिया में बड़ा बयान भी दे चुके है।

CONGRESS के प्रदेशाध्यक्ष को समीक्षा हो

हाल ही में चुरहट से विधायक और विधानसभा में पूर्व नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ‘राहुल’ ने मीडिया से कहा कि जीतू पटवारी के कार्यकाल की समीक्षा होनी चाहिए कि उनके कार्यकाल में बड़ी संख्या में नेताओं ने पार्टी क्यों छोड़ी। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पिछड़ा वर्ग कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके दामोदर यादव ने भी जीतू पटवारी पर के सिर पर हार का ठीकरा फोड़ा है।

अजय सिंह ‘राहुल’ ने सवाल उठाया कि कमल नाथ और दिग्विजय सिंह प्रचार के लिए अपने क्षेत्रों से बाहर क्यों नहीं निकले। पार्टी हाईकमान इस बात की भी समीक्षा करे कि चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों के समर्थन में कौन-कौन दिग्गज कहां-कहां पहुंचा। उन्होंने कमल नाथ और नकुल नाथ का नाम लिए बिना इशारे में कहा, कुछ लोग भाजपा में जा रहे हैं, नहीं जा रहे हैं, ऐसी अटकलें चलती रहीं। उसका भी असर पड़ा।

कमलनाथ भी हार से आहत

लोकसभा चुनाव में छिंदवाड़ा में अपने बेटे नकुल नाथ की हार से आहत कमल नाथ ने मीडिया से कहा कि प्रश्न सिर्फ छिंदवाड़ा की हार का नहीं, बल्कि पूरे प्रदेश में हार का है। इसका कारण जानने के लिए पोस्टमार्टम होना चाहिए। उनका इशारा भी यही है कि प्रदेश में इतनी बड़ी हार की वजह सिर्फ प्रत्याशियों का प्रदर्शन नहीं, बल्कि कुछ और है। वह खुलकर भले ही नहीं बोले पर विधानसभा चुनाव में हार के बाद से अलग-थलग हैं।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *